कुछ बातें बोली नही जाती तो वो अनकही हो जाती हैं उन अनकही बातों को इन पन्नों पर उतारा है।

Sunday, 15 April 2018

मैं जो गाऊँ तुझे छू जाए

मैं जो गाऊँ तुझे छू जाए -3
कोई तो ऐसा सुर लग जाए -2

मैं जो गाऊँ तुझे छू जाए
कोई तो ऐसा सुर लग जाए

मै जो नाचूँ तू ताल मिलाए -2
पग एसी घुंघरू बँध जाए

मैं जो नाचूँ तू ताल मिलाए
पग एसी घुंघरू बँध जाए

जो चढ़ाऊँ तुझे मिल जाए -2
कोई तो ऐसा गुल खिल जाए

जो चढ़ाऊँ तुझे मिल जाए
कोई तो ऐसा गुल खिल जाए

मैं जो हँस दूँ तू मुरली बजाए -2
ऐसा भी कोई सुख मिल जाए

मैं जो हँस दूँ तू मुरली बजाए
ऐसा भी कोई सुख मिल जाए

मैं जो रो दूँ तू आँसू बहाए -2
कोई तो ऐसा गम मिल जाए

मैं जो रो दूँ तू आँसू बहाए
कोई तो ऐसा गम मिल जाए

हर कर्म में तुझको ही ध्याए -2
शायद कभी तू मिल जाए

हर कर्म में तुझको ही ध्याए
शायद कभी तू मिल जाए

मेरा जीवन सफल बन जाए
मेरी भक्ति को फल मिल जाए
चित मेरा भी चैन को पाए
चरणों की तेरी धूल मिल जाए
चरणों की तेरी धूल मिल जाए

मेरा जीवन सफल बन जाए
चरणों की तेरी धूल मिल जाए

मैं जो गाऊँ तुझे छू जाए -3
कोई तो ऐसा सुर लग जाए -2

मैं जो गाऊँ तुझे छू जाए
कोई तो ऐसा सुर लग जाए
कोई तो ऐसा सुर लग जाए

जय श्री कृष्णा
                                       #आँचल 

18 comments:

  1. वाह!!सुंंदर!!

    ReplyDelete
    Replies
    1. अति आभार शुभ दिवस

      Delete
  2. Replies
    1. अति आभार दीदी जी
      शुभ दिवस 🙇

      Delete
  3. बहुत सुंदर भजन समर्पित मन की मनोकामनाएं।

    ReplyDelete
    Replies
    1. अति आभार दीदी जी शुभ संध्या 🙇

      Delete
  4. बहुत सुंदर भजन......

    साँवरिया जो तेरा दीदार हो जाये, प्यास मिटे नैनो की,और उद्धार हो जाये

    ReplyDelete
    Replies
    1. वाह बहुत सुंदर कहा आपने अति आभार धन्यवाद आदरणीय नवीन जी सुप्रभात

      Delete
  5. मैं जो हँस दूँ तू मुरली बजाए
    ऐसा भी कोई सुख मिल जाए
    मैं जो रो दूँ तू आँसू बहाए -
    कोई तो ऐसा गम मिल जाए--
    रूहानी प्रेम की पराकाष्ठा को इंगित करती मर्मस्पर्शी रचना | प्रेम वही है जहाँ मैं और तू के भाव मिट जाते है | सस्नेह --

    ReplyDelete
    Replies
    1. जी बिलकुल सत्य कहा आपने जहाँ मै और तू ना हो वही प्रेम है
      इतनी मनमोहक और उत्साहवर्धक प्रतिक्रिया के लिए आभार सुप्रभात 🙇

      Delete
  6. अतिसुन्दर भजन....
    वाह!!!

    ReplyDelete
  7. सुंदर भजन....पसंद आया

    ReplyDelete
  8. आपकी सराहना ने हमारी पंक्तियों का मान बढ़ा दिया हृदयतल से आभार

    ReplyDelete